X Close
X

चुनाव – बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की भावना को आगे लेकर जाना है, “म्हारी छोरी छोरों से कम है के”


Agra:

पानीपत. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को हरियाणा के चरखी दादरी में चुनावी सभा को संबोधित किया। यहां उन्होंने बबीता फौगाट के समर्थन में वोट मांगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा में ‘म्हारी छोरी छोरों से कम हैं के’ का नारा अभियान बन गया। ऐसी आवाज के आंदोलन बनने पर दुनिया कहने को मजबूर होती है कि हिंदुस्तान की बेटियां धाकड़ हैं। दोपहर में मोदी कुरुक्षेत्र पहुंचेंगे। यहां वे जीटी रोड बेल्ट के 17 प्रत्याशियों के समर्थन में सभा को संबोधित करेंगे।

‘आपके वोट से बांटने वाली शक्तियां खत्म हुईं’
मोदी ने कहा, ‘‘आपके बीच आना, आपका दर्शन करना, यह मेरे लिए सौभाग्य होता है। सिर्फ विकास और राष्ट्रहित को ध्यान में रखकर दिए गए आपके वोट ने बांटने वाली शक्तियों को खत्म कर दिया है। हमने बीते 5 सालों में विकास की बुनियाद रखी। उस पर सशक्त भारत के निर्माण का काम शुरू हो चुका है। भारत के निर्माण का यह असर गरीब के घरों और गांवों में दिख रहा है। केवल हरियाणा ने नहीं बल्कि पूरे देश के गांवों ने खुले में शौच से मुक्ति का संकल्प सच कर दिखाया है। हर घर जल पहुंचाने के मिशन में सरकार अहम भूमिका निभा रही है।’’

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की भावना को आगे लेकर जाना है’
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हरियाणा का हर व्यक्ति बोलता है- म्हारी छोरी छोरों से कम है के। यह आवाज हरियाणा के गांवों से निकली है। ऐसी आवाज जब आंदोलन बनती है तब दुनिया कहने को मजबूर होती है कि हिंदुस्तान की बेटियां धाकड़ है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की इस भावना को हमें आगे लेकर जाना है। हरियाणा की बेटियां हर क्षेत्र में अपने कौशल का लोहा मनवा रही हैं। इस बार हमारे लिए दो दिवाली आई हैं। एक कमल वाली तो दूसरी दिए वाली दीवाली। यह दिवाली हमारी बेटियों के नाम होनी चाहिए। जो बेटियां लक्ष्मी बनकर हमारे समाज को गौरव दे रही हैं, उनकी उपलब्धियों का पूजन होना चाहिए। हमारी बेटियों-बहनों का स्वास्थ्य, सुरक्षा, सशक्तिकरण हमारे लिए प्राथमिकता रही है।’’

Read More

The post चुनाव – बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की भावना को आगे लेकर जाना है, “म्हारी छोरी छोरों से कम है के” appeared first on Welcome to Nayesamikaran.