X Close
X

विशाल भंडारा का आयोजन


IMG_20200112_143044-150x150
Agra: वैदिक ग्रंथों में बताया गया है कि धर्म के चार चरण होते है – सत्य, तप, पवित्रता और दान.फिर त्रेतायुग में सत्य चला गया द्वापर में सत्य और तप नहीं रहे और कलियगु में सत्य और तप के साथ पवित्रता भी चली गई. कलियुग में केवल दान और दया ही धर्म रह गया है. इसलिए युवा चेतना द्वारा परम्परा को कायम रखते हुए मालदेपुर गांव में विशाल भंडारा का आयोजन किया गया।खासियत है कि यहां पर लोग जाति-पाति, अमीर-गरीब से ऊपर उठकर भोजन किए।इसके बाद युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक श्री रोहित सिंह और श्री अभिषेक ब्रह्माचारी जी ने गरीबों को कंबल वितरण किया,तथा आमजन को संबोधित किया रोहित जी ने सरकार की नीतियों पर भी सवाल उठाए और सरकार को गरीब विरोधी बताते हुए उन्होंने हर मोर्चे पर गुमराह करने वाला बताया।जयेंद्र कुमार चौबे ब्यूरो चीीफ वाराणसीी The post विशाल भंडारा का आयोजन appeared first on Welcome to Nayesamikaran.