X Close
X

हर रिश्ते में स्वार्थ पति-पत्नी के रिश्ते में कोई स्वार्थ नहीं : पं. राजीव वशिष्ठ महाराज


Agra: आगरा : भगवान की अगर भक्ती करनी है तो भक्त प्रह्लाद की तरह करो जो असुरो के साथ रहकर भी भगवान् को नही भुला और उसकी निष्पक्ष भक्ति भगवान् को अवतार लेने पर विवश कर गयी।  प्रह्लाद की तरह भगवान् पर विश्वास रखो तो चाहे जितनी भी होलिका रुपी कठिनाइयां आये, कष्टो की आग भी आपको भस्म नही कर पाएगी और आप कष्टो की आग से सकुशल निकल कर सुखपूर्वक जीवन व्यतीत कर पाएंगे। ये कहना था हरि बोल सेवा समिति द्वारा बल्केश्वर स्थित श्री महालक्ष्मी मंदिर पर चल रही कथा मे व्यासपीठ से पं. राजीव वशिष्ठ महाराज का | श्रीमद्भागवत कथा मे तीसरे दिन मंगलवार को जड़भरत चरित्र एवं नरसिंह अवतार कथा  संवाद का वर्णन किया गया | कथा के दौरान प्रहलाद, नरसिंघ और हिरणाकश्यप अवतार की झांकी ने भक्तो को खूब आकर्षित किया | कथावचन मे राधे-श्याम के भजनो से पूरा माहौल भक्तिमय हो उठा| व्यास पं. राजीव वशिष्ठ महाराज ने जड़ भरत की कहानी सुनाते हुए कहा कि संसार के सभी रिश्ते स्वार्थ के हैं, हर रिश्ते को निभाने में स्वार्थ छुपा है। सिर्फ पति-पत्नी का रिश्ता ऐसा है जिसमे स्वार्थ नही होता इसीलिए पति-पत्नि रुपी गाड़ी के दोनों पहिये एक दुसरे के पूरक हैं महिलाओ को अपने साथ-साथ पति को भी भक्ति मार्ग पर ले जाकर भवसागर पार करना चाहिए। कथा के मुख्य यजमान अनिल अग्रवाल एंव कंचन अग्रवाल है। वही दैनिक यजमान गौरव पोद्दार एवं संगीता पोद्दार रहे।मीडिया समन्वयक सीपी चौहान ने बताया कि आज बलिवामन प्रसंग, श्रीराम चरित्र, श्री कृष्ण जन्मोत्सव का वर्णन किया जाएगा। ये रहे मौजूद कलश यात्रा में संस्थापिका ममता सिंघल, मुख्य संरक्षक योगेश गुप्ता, अध्यक्ष अनुज सिंघल, विक्की गर्ग, विष्णु अग्रवाल, अनिल गुप्ता, नरेंद्र अग्रवाल, राधे कपूर, रामगोपाल, बेबी अग्रवाल,  प्रतिमा गुप्ता, मधु बंसल,  राजकुमारी अग्रवाल मीना गर्ग, गुंजन अग्रवाल, चंचल बंसल, गायत्री गुप्ता, आशा गर्ग, नीतू गर्ग, अल्पना गर्ग, सरोज मंगल, आशा जिंदल, अर्चना अग्रवाल, जागृति अग्रवाल, अनु जैसवाल, मंजू वर्मा, विनीता अग्रवाल, पूजा अग्रवाल, शिखा अग्रवाल, पूजा शर्मा, वर्षा शर्मा, रेनू वर्मा, डोली अग्रवाल, सावित्री गुप्ता, सुनीता अग्रवाल, सरला अग्रवाल, रेनू अग्रवाल आदि मौजूद रही |

The post हर रिश्ते में स्वार्थ पति-पत्नी के रिश्ते में कोई स्वार्थ नहीं : पं. राजीव वशिष्ठ महाराज appeared first on Welcome to Nayesamikaran.